बीएफ सेक्सी देहाती ब्लू

Image source,गुजराती सेक्सी क्लिप

तस्वीर का शीर्षक ,

पपीता मजेदार: बीएफ सेक्सी देहाती ब्लू, तो मैं उसको पढ़ाने लगा।अभी हम दोनों पढ़ ही रहे थे कि मैंने सोचा कि थोड़ी मस्ती कि जाए.

राजस्थानी इंडियन सेक्सी

मैं दोबारा ऐसा कभी नहीं करूंगा।वो मान गईं।मेरा लंड एकदम से तन गया था. सेकसी videoतो नेहा बोली- कोई नहीं।लेकिन उसके चेहरे से पता चल रहा था कि उसे ये बहुत अच्छा लगा।थोड़ी देर में कॉफ़ी बनी और हम दोनों ही एक सोफे पर बैठ गए और नेहा ने अपना मुँह मेरी तरफ किया।हम कॉफ़ी पी ही रहे थे… मैंने कहा- भाभी एक बात पूछू.

उस रात तो मैंने ऐसे ही चोद दिया।दूसरे दिन कहने लगी- आज फिर से मेरी मार ही दो. सेक्स व्हिडीओ बंगालीनहाने के बाद मैंने फरहान से पूछा- क्या तुम चुदाई के लिए तैयार हो?तो फरहान ने ‘हाँ’ में जवाब दिया और हम दोनों बिस्तर के तरफ चल दिए।बिस्तर पर पहुँच कर मैंने फरहान को कहा- अपने घुटनों और हाथों पर हो जाओ और अपनी गाण्ड को ऊपर की तरफ उठा कर डॉगी पोजीशन बना लो।मैंने अपने लण्ड और उसकी गाण्ड के सुराख पर तेल लगाया और फरहान पर झुकते हुए उससे कहा- अब मेरे लण्ड को अपने हाथ से पकड़ो और अपने सुराख पर सही जगह रखो.

तब पक्का गाण्ड मार लेना।मैंने भी जोर नहीं दिया और मैं उनकी चूचियों को बारी-बारी पीने लगा।दोस्तो उस रात भाभी को मैंने कई बार चोदा.बीएफ सेक्सी देहाती ब्लू: और उनके लिंग के सुपाड़े को अपनी दाने जैसी चीज़ पर रगड़ने लगी।वो अब मेरी जाँघों को छोड़ कर मेरे स्तनों को जोर-जोर से मसल कर मेरे चूचुकों को दाँतों से दबा-दबा कर खींचने और चूसने लगे।मुझे अपने स्तनों में दर्द को तो एहसास हो ही रहा था.

मगर मजबूरी में वो भी हँसने का नाटक कर रही थी।टोनी- भाई हँसना बन्द करो और मेरे सवाल का जबाव दो।पुनीत- जबाव क्या देना था.मैं उसका हाथ पकड़ कर थोड़ा सुनसान की तरफ चला गया। वहाँ कुछ और कॉलेज के जोड़े बैठे थे.

चटक मटक चलूंगी - बीएफ सेक्सी देहाती ब्लू

वो भी तड़प उठती और उसे मज़ा भी आता। इस तरह करीब 45 मिनट की चुदाई के बाद मैं झड़ गया। वो उतनी देर में 2-3 बार झड़ी होगी.मेरे होंठों से एक सेक्सी सिसकारी निकली और मैंने दरवाज़े पर ही अपना सारा माल गिरा दिया.

अब बस में सिर्फ दस बारह सवारियाँ रह गई थीं। ठंड भी ज़्यादा लगने लगी.बीएफ सेक्सी देहाती ब्लू क्लास 12वीं और ये अनुष्का है क्लास 11 वीं में पढ़ रही है।इतने में मैम कमरे में आ गईं।मैम बोलीं- अरे तुम दोनों भागो.

और ऊपर गर्दन की तरफ से लेफ्ट चूचे को चूस रहा था और नीचे पीठ की तरफ़ से हाथ डाल कर अन्दर से उसके मम्मों को मसक रहा था।इससे शायद वो अच्छा महसूस करने लगी थी… इसलिए मैंने उसकी ब्रा को पूरी तरह से अलग करके पूरी कमीज़ को ऊपर गर्दन के पास कर दी और खुद उसकी टाँगों की तरफ से उसके ऊपर चढ़ कर उसके दोनों मम्मों को एक-एक करके चूसने लगा। बीच-बीच में मैं उसे किस भी कर रहा था और स्मूच भी.

लव बाय चान्स?

बीएफ सेक्सी देहाती ब्लू उससे पहले मैंने उसे आज़ाद कर लिया। जैसे ही उसने मेरा 7 इंच का हथियार देखा.

लगी रोशनी बुझाओ कैसे?கிராமத்து செக்ஸ் வீடியோ

बीएफ सेक्सी देहाती ब्लू पर फिर भी वो चूत में जाने का नाम ही नहीं ले रहा था।फिर मैंने उसकी चूत में पहले अपनी उंगली घुसाई और उसे उंगली करना स्टार्ट किया।अब मैं समझ गया था कि मुझे ऐसी चूत मिली है.

ब्राउन मुंडा सॉन्ग

तो उसके फोन पर कॉल आ गई।मैंने ध्यान नहीं दिया कि मेरा नम्बर उसके पास आ गया है।उससे अगले दिन मैं दोपहर तक खाना खाने नहीं गया.मेरे जिस्म का पूरा भार अपने मम्मों पर डलवाते हुए चुदाई करवाने लगी।वो ‘आहें.

बीएफ सेक्सी देहाती ब्लू प्रियंका के पास सीढ़ियों में बैठ गई और बोली- यार प्रियंका तू सही नहीं कर रही है.

हीरोइन सेक्स वीडियोस

नोन वेज शायरीइस चूत की भूख जिसमें दोनों बातें छिपी हैं एक तरफ तो चूत को लण्ड की भूख छिपी होती है और दूसरी तरफ लण्ड को चूत की भूख लगी होती है.

कमरे में गूँजने लगीं।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !कुछ देर इसी तरह चोदने के बाद मैंने सोनी की दोनों टाँगें ऊपर उठाईं और जोर-जोर से उसकी चूत की चुदाई करने लगा। इस बार सोनी रो रही थी.तो दूसरे हाथ से मैं उसकी चूत में उंगली कर रहा था।उसकी चूत गीली हो चुकी थी। उसने पैंटी भी नहीं पहन रखी थी। सो मेरी उंगली आसानी से सलवार के ऊपर से ही उसकी चूत में जा रही थी। वो बहुत जोर से आवाज कर रही थी।‘उन्नन्नन्न न्नह्हह.

’ की आवाज आ रही थी।उधर मैं नीचे लंड को धीरे-धीरे आगे-पीछे करता रहा.

मैंने फिर से हल्का सा लंड बाहर निकाला और फिर से उसकी चूत में जोर के धक्के के साथ अपना आधा लंड डाल दिया।प्रीत- ऊह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्ह.

क्योंकि उसको तो वहाँ पर मुनिया को लेकर जाना था ना।पायल के दिल में अब भी थोड़ा डर था कि अगर पुनीत हार गया तो क्या होगा? बस वो रास्ते में यही सब सोचती जा रही थी। उधर सन्नी और अर्जुन कुछ खाने-पीने का सामान लेकर मंज़िल की ओर चल पड़े थे।दोस्तों अब रास्ते का हाल आपको क्या बताऊँ. अब हम दोनों एक-दूसरे के सामने थे। भले ही हम दोनों एक-दूसरे को छू नहीं सकते थे.

मारवाड़ी सेक्सी फिल्में उसने साफ़ मना कर दिया और रोने लगी।थोड़ी देर बाद चुप हुई तो मैंने कहा- सिर्फ़ छूना ही है.

सेकसी विडीवो

बीएफ सेक्सी देहाती ब्लू: धीरे-धीरे दो उंगली पूरी तरह से अन्दर जाने लगी।जब मैंने प्रियंका की कमर पकड़ी तो बहुत ही मुलायम लगी.यह समझते ही मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और उसकी गोरी गाण्ड में तेज तेज चांटे मारने लगा.