काले लंड की बीएफ

Image source,मराठी सेक्सी फुल एचडी व्हिडिओ

तस्वीर का शीर्षक ,

कृष्णा मधु का बीएफ: काले लंड की बीएफ, पर सब उसे शब्बो ही बुलाते थे। शब्बो की माँ मर चुकी थी और अकेला बाप तीन जवान होती लड़कियों का बोझ नहीं ढो पा रहा था।तीन बहनों में सबसे छोटी और चुलबुली शब्बो रश्मि से बहुत हिली-मिली थी। अपनी मदद के लिए रश्मि उसे अपने साथ ले आई। अब वही उसके अकेलेपन का सहारा थी। घर के काम-काज़ के साथ वो प्राइवेट पढ़ाई भी कर रही थी।रश्मि के यहाँ रहते हुए वो एक बच्ची से सुन्दर किशोरी कब बन गई.

सेक्सी पिक्चर वीडियो चाहिए सेक्सी

और मुझे सपोर्ट कर रही थी।मैंने ज़्यादा टाइम ना खराब करते हुए लम्बे धक्के देना स्टार्ट किया और उसके ऊपर पूरा लद गया।मैंने लोवर पहना था. हिंदी सेक्सी मूवी मसालातो उसे मैं और मेरे सास-ससुर सरकारी हॉस्पिटल लेकर गए, साथ में तनु के अंकल का लड़का कमल भी आया था।जनाना वार्ड में पुरुषों का प्रवेश वर्जित था.

और अब मुझसे कंट्रोल नहीं हो रहा था।मैंने जल्दी से दीदी को पीछे से पकड़ लिया और उनके मम्मों पर हाथ फिराने लगा। उन्होंने कुछ भी विरोध नहीं किया तो मैंने उनके दोनों मम्मों को दबाना चालू कर दिए। अब वो भी गर्म हो गई थीं. बोलो सेक्सी हिंदी’ मेरी ओर झुकते हुए उसने कहा।‘क्या मैं तुम्हारे चेहरे पर अपना हाथ फिराऊँ?’‘क्या तुम मेरे साथ तांत्रिक प्रक्रिया करना चाह रहे हो?’‘कोशिश करके देखता हूँ.

तुम मुझे स्टेशन पर सामान दे जाना।दोस्त आया और एक बैग में सामान और अंजलि का एड्रेस और मोबाइल नम्बर आदि मुझे दे गया।मैं सुबह 6 बजे पहुँच कर सीधे अंजलि के घर गया मैंने सोचा कि पहले अंजलि का सामान दे दूँ.काले लंड की बीएफ: अर्थात लड़की लड़के के लंड पर बैठी हुई थी और धुंआधार चुदाई हो रही थी।मैं समझ गया कि ये लोग लोकल के हैं और चुदाई के लिए रूम की व्यवस्था ना होने के कारण यहाँ पर आकर मज़े करते हैं।मैं भी कहाँ पीछे रहने वाला था।हमने थोड़ी देर एक-दूसरे के लंड चूत को सहलाया और फिर जब हम दोनों चुदाई के लिए तैयार हो गए तो साक्षी को मैंने अपनी घोड़ी के जैसे में बैठने को बोला।साक्षी मेरे सामने आकर खड़ी हो गई.

वो कहाँ जाती है।उसने पूछा तो पता चला वो अपने बॉयफ्रेंड के हॉस्टल में जाती है।मैंने कहा- मेरे हॉस्टल में आना पॉसिबल नहीं है.हम दोनों अन्दर चले गए।मैं तो उसकी गर्लफ्रेंड एंजेल को देखता ही रह गया। क्या गदर माल थी। गोल-गोल गाल.

घड़ी की ब्लू फिल्म सेक्सी - काले लंड की बीएफ

हाँ लेकिन यह सोचकर बहुत दुख होता है कि इतने प्यारे इंसान को समाज गिरी हुई नज़र से देखता है वो भी सिर्फ इसलिए क्योंकि उसको लड़के पसंद हैं और जिसमें उस लड़के कोई गलती भी नहीं है।मैं बस आपसे यही पूछना चाहता हूँ कि जो आपको प्यार दे रहा है.पर मैंने उधर कुछ नहीं बोला और वापस चला आया।शाम हो गई और मैं घर के बाहर फोल्डिंग चारपाई डाल कर लेट गया। सब लोग भी वहीं पर लेट गए.

यह उसने जानबूझ कर किया था या ग़लती से हो गया, पर मेरा तो दिमाग़ खराब हो गया।फिर मैंने ज़्यादा नहीं सोचा और अपना हाथ उसकी कमीज़ में डालते हुए उसके पूरे पेट पर हाथ फेरने लगा.काले लंड की बीएफ मुझे पता होता तो कब से तुम से चुदवा चुकी होती।तब मैंने कहा- आपी, आज जम कर आपको चोद रहा हूँ.

ये कहते हुए वो झड़ गई और उसको देखते हुए मैं भी जोश में आ गया और मैं भी उसकी बुर के अन्दर झड़ गया।मैंने अपना सारा वीर्य उसकी चूत में छोड़ दिया और हम दोनों हाँफने लगे.

माधुरी दीक्षित फुल सेक्सी?

काले लंड की बीएफ मेरी इच्छा हो रही थी कि मैं उसकी चूत फाड़ कर उसमें घुस जाऊँ।वो कामुक सिसकारियाँ लेने लग गई और अपने हाथों से मेरे सिर को पकड़ कर अपनी चूत पर दबाने लगी।शायद वो झड़ने वाली थी.

जंगल में मंगल सेक्सी वीडियो फुल एचडी?बीएफ चोदा चोदी की

काले लंड की बीएफ कहाँ रहे इतनी देर।मैंने कहा- अब आ गया हूँ, अब कर देता हूँ तेरी तड़प दूर.

सेक्सी पिक्चर मराठी मधून

जब मॉम बिना शर्म के अपनी हल्की लाल आँखों से मेरे लंड को इस तरह निहारने लगीं.तब तक मैं खाने का इंतजाम कर लूँगी।यह कहते हुए तन्वी जल्दी से सोफे पर घोड़ी बन गई और तुषार ने तन्वी की गांड पर एक जोर का थप्पड़ मारते हुए अपना लंड उसकी चूत में लगा कर डालने लगा।तन्वी चिल्लाने लगी- आह्ह.

काले लंड की बीएफ अब वे आने का नाम ही नहीं ले रहे हैं।उनके स्वर में कुछ उदासी आ गई थी।फिर भाभी अन्दर गईं और मूव लेकर आ गईं।भाभी ने कहा- ये लो मूव लगा लो।मैंने कहा- मेरे चार हाथ थोड़ी ना हैं कि खुद से लगा लूँ।भाभी हँस कर बोलीं- तो मैं लगा दूँ क्या?मैंने कहा- हाँ भाभी, आप लगा दो तो अच्छा रहेगा।भाभी बोलीं- बदमाश हो तुम!मैंने भी हँस कर कहा- वो तो पैदायशी ही हूँ।भाभी बोलीं- सोफे पे लेट जाओ.

सील पैक लड़की का सेक्सी

हिंदी सेक्सी मूवी आवाज मेंतो उसने पैर से धक्का देकर मुझको हटा दिया।थोड़ी देर बाद मैंने वापस से कोशिश की तो चला गया। उसने थोड़ा रुकने के लिए बोला।वो हाँफ रही थी और अब मुझे मज़ा आ रहा था, फिर उसने बोला- अब धीरे से धक्का दे।मैंने सोचा कि धीरे से दूँगा तो ये फिर से चिल्लाएगी और बाहर निकाल देगी। मैंने जोरदार धक्का दिया और उसकी गुफा में मेरा लौड़ा पूरा का पूरा फिट हो गया। इस बार उसकी तो हालत देखने लायक थी। न तो बोली.

’राज ने टीवी का चैनल बदलते हुए ‘एफ टीवी’ लगा दिया और टीवी पर नंगी-पुंगी मॉडल्स को देखने लगा।सविता भाभी ने राज की पैन्ट में उसका लौड़ा फूलता हुआ देखा तो वे समझ गईं कि इन नंगी मॉडल्स की तरफ देखने से इसका खड़ा होने लगा है।उन्होंने उसके लौड़े की तरफ इशारा करते हुए उसको छेड़ा- मुझे लगता है तू इस वक्त किसी लड़की की जरूरत महसूस कर रहा है।‘ओह.तो मैं उसके घर पर ही चला गया। उस वक्त वो अपने बेडरूम में आराम कर रही थी।मैंने आवाज लगाई तो भाभी बोली- अन्दर आ जाओ।मैं अन्दर गया और जाते ही मैंने भाभी को ‘सॉरी’ कहा और कहा- आगे से ऐसा नहीं होगा.

मेरा माल निकलने ही वाला था कि मैंने अपना लंड बाहर निकाल लिया और थोड़ी देर रुक गया।मैं उन्हें भरपूर चोदना चाहता था।अब मैंने अपना लंड उनकी गाण्ड में डालना चाहा तो उन्होंने कहा- रूको.

मेरी आंखें खुली की खुली रह गईं। उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था और जैसे ही मैंने शिवानी की चूत को छुआ.

फिर?‘फिर राहुल के धक्कों की स्पीड राजधानी के जैसे हो गई और उन्होंने ने लास्ट के कुछ धक्के तो ऐसे मारे कि मेरी चूत इतनी लपलपाई कि उनका सुपारा पूरा छिल गया और आखिर में हम दोनों ‘आआहा. नींद में होने के कारण उसे पता नहीं चला और अपने कपड़े उतार फेंके। उसके लंड में मैं अपने स्तनों को छुआने लगी।वो धीरे-धीरे उस दिन जैसा कड़ा हो गया।मैं अब उसके पैरों की तरफ मुँह करके लेट गई और उसके लंड को चूसने लगी। वो गहरी नींद में था.

हिंदी में सेक्सी वीडियो साड़ी वाला वैसे ही वो भी पूरे मजे ले के चुदवाती है। पूरी चुद्दकड़ रांड है मेरी बहू।तभी मेरा ससुर रमेश बोला- ऐसा है तो हमको भी कभी उसका रस चखाओ जानेमन।सास सविता बोली- वाह रे मेरे मरियल घोड़े.

सेक्सी हद सेक्स

काले लंड की बीएफ: आज अपने इस भाई को खुश करेगी?मैंने भी कह दिया- भैया आप भी मुझे बहुत अच्छे लगते हो.फिर मैंने उसकी पैन्टी को साइड से पकड़ कर नीचे से निकालते हुए अपने घुटनों पर बैठ गया।मैं उसकी चूत को देखने लगा और रगड़ने लगा।आज उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था।मैं ब्लू-फिल्म बहुत देखता था.