गांव की लड़की बीएफ

Image source,बीएफ सेक्सी फिल्म एक्स एक्स एक्स

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी फोटो चुदाई दिखाओ: गांव की लड़की बीएफ, पर उसने मेरा लंड एक बार भी नहीं चूसा है।इसलिए मैं चाहता हूँ कि कोई लड़की कुंवारी हो.

हिंदी में बीएफ एचडी वीडियो सेक्सी

मगर आपने जवाब नहीं दिया।वो बोली- पहले ये बताओ कि सब ठीक है?मैंने कहा- तुम मौसी बन गई और मैं चाचा।पूजा बहुत खुश हुई और बोली- तुम अभी घर आ जाओ. देसी बीएफ फुल मूवीअभी भी तुम मेरे साथ हो, मेरी इतनी केयर कर रहे हो, जब कि ये तुम्हारा काम नहीं है।मैं बोला- अरे ऐसा कुछ मत सोचो, मुझे तुम अच्छी लगती हो इसलिए केयर कर रहा हूँ।पता नहीं मैं ये कैसे बोल गया.

वो तुरन्त मेरे पास लेट गई और अपने निप्पल मसलने लगी। वो अपने ऊपर काबू नहीं रख पा रही थी।मैंने उसका टॉप उतारा और उसकी गुलाबी ब्रा के ऊपर से उसके चूचे चूसने लगा। वो अब पूरी तरह मस्त हो चुकी थी और एक हाथ से मेरा लौड़ा सहला रही थी और दूसरे हाथ से अपनी चूची दबा रही थी।मैंने धीरे से उसकी जीन्स नीचे खींची, उसकी जाँघें एकदम दूध की तरह सफ़ेद थी और जाँघों के बीच गुलाबी रंग की पैन्टी ऐसे लग रही थी. भाभी देवर की बीएफ सेक्सी फिल्मबहुत मस्त था।फिर जब मुझसे कण्ट्रोल नहीं हुआ तो मैंने उठ कर उसका दुपट्टा खींच लिया और एक-एक कर सारे कपड़े उतार कर उसे नंगी कर दिया और पटक के जम कर चुदाई की। वो भी ठहरी सेक्सी औरत.

पर मेरा पारा अब भी बहुत ज्यादा चढ़ा हुआ था।मैंने उसे फ़िर से नीचे लिया और अपना लंड फ़िर से चूत की गहराई में उतार दिया। पंद्रह-बीस तगड़े झटके देने के बाद मैं आने वाला था, मैंने उससे पूछा- मैं आने वाला हूँ.गांव की लड़की बीएफ: मेरे घर के और सब बिहार में रहते हैं।मैं तो पहले से ही जानता था कि यह बिहार से है। उसके रिज्यूमे में लिखा था.

पिक्चर के अलावा और तो कोई प्रोग्राम नहीं है न?डॉक्टर साहब बोले- क्या सब कुछ खोल कर बताऊँ?बोली- हाँ बताओ।तो डॉक्टर साहब बोले- बात ये है कि उस दिन जिस तरह तुमने चिपक-चिपक कर इतने प्यार से अपनी प्यारी-प्यारी सी चिकनी-चिकनी चूत दी थी न.तो कभी मेरी छाती पर हाथ फेरने लगतीं। साथ ही मेरे निप्पलों को सहला देतीं।इसी तरह मैं भी कभी उनकी चूत पर हाथ फेरता, कभी चूत में उंगली करता, कभी उनके स्तनों से कभी उनकी निप्पलों से खेलने लगता।अब जाकर हम दोनों एक-दूसरे से बात करने लगे। उन्होंने अपना नाम सुजाता बताया.

बीएफ की चुदाई वीडियो - गांव की लड़की बीएफ

और यही हुआ भी। रामावतार जी ने बबिता के चूतड़ों को पकड़ते हुए उन्हें थोड़ा ऊपर को उठाया और इतनी तेज़ी से धक्का मारने लगे जैसे उनकी मर्दानगी को किसी ने चुनौती दे दी हो।बबिता जी और जोरों से बड़बड़ाने लगीं ‘आह्ह.परसों आता हूँ।फिर कुछ देर में सुमन की कॉल आई और पूछने लगी- क्या कर रहे हो?मैंने कहा- कुछ नहीं.

नहीं तो आराम करने दो।मैंने किसी तरह उसकी चूत चाटनी शुरू की तो बोली- ठीक से चूत चाटो.गांव की लड़की बीएफ छोड़ो भी।लेकिन मैंने उसकी एक ना सुनी और उसके गुलाबी होंठों पर अपने होंठ रख दिए और उनको चूसने लगा।वो कसमसाने लगी थी, मैंने देर ना करते हुए उसको बिस्तर पर लिटा दिया।अब हम दोनों गर्म होने लगे थे, हमारी साँसें बहुत तेज हो चुकी थीं, मैंने अपने होंठ फिर से उसके रसीले गुलाबी होंठों पर रख दिए और उन्हें चूसने लगा।उसके हाथ मेरी गर्दन पर थे, मैं उसकी गरम साँसों को महसूस कर सकता था।उफ्फ.

पर मुझे कन्ट्रोल करना पड़ा।फिर भाभी ने अचानक बोला- ये ब्रा बहुत चुभ रही है.

बीएफ सेक्स वीडियो डॉट कॉम?

गांव की लड़की बीएफ लेकिन उसका विरोध न देख कर मैं कहने लगा- मैं दूसरी तरफ जा नहीं पा रहा हूँ।यह कह कर मैं अपना लंड उसकी गांड पर चिपका कर इधर-उधर होने लगा। यह मैं जानबूझ कर रहा था।अब तक उसको भी शायद अच्छा लगने लगा था, उसको भी जगह बदलने की कोई जल्दी नहीं थी.

बीएफ चोदने में?एचडी की सेक्सी चुदाई

गांव की लड़की बीएफ और पीछे से नेहा की चूत में लंड डाल दिया।नेहा जोर-जोर से चीखने लगी- ओह्ह.

हिंदी में बीएफ बताएं

यार गुलाबी रंग का सूट और वो भी उसने पूरा टाइट सूट पहना हुआ था और बालों को एक तरफ कर रखा था। अगर मेरा बस चलता तो उसको वहीं चोद देता।मैंने कहा- क्या बात है आज तो गुलाब ने भी गुलाबी रंग पहना है।प्रिया बोली- थैंक्स जी!वह अपनी स्कूटी लाई हुई थी तो मैंने कहा- मैं चलाऊँ?तो प्रिया बोली- ठीक है।मैंने स्कूटी पर उसको पीछे बैठाया और वो दोनों तरफ पैर डाल कर बैठ गई। अब जब भी मैं ब्रेक लगाता.डॉक्टर सचिन और नेहा दारू पी चुके थे, डॉक्टर ने नेहा से कहा- बेगम इस फुसफुस से हमारे कार्यक्रम की वीडियो बनवा लो।नेहा बोली- हाँ, ये ठीक कहा.

गांव की लड़की बीएफ तो उन्होंने मेरे हाथ पर अपना हाथ रखकर मुझसे पूछा- क्या तुम मेरी समस्या को मेरे साथ सेक्स करके दूर कर सकते हो.

बीएफ सेक्सी वीडियोxxx

देसी बीएफ फुल एचडी वीडियोइसलिए वो भी बहुत ज्यादा गर्म हो चुकी थी। मैंने एक ही झटके में लौड़ा उसकी चूत की जड़ में बिठा दिया। भावना ने मजे से ‘ऊह.

वो पागल हो रही थी, अपनी चूत को मेरे चेहरे पर दबा रही थी।मैं भी पागल हो गया था.भीगी नाईटी में उनके बालों में एक छोटा तौलिया लिपटा होता था और वो किसी फिल्म की हीरोईन सी लगती थीं।जैसे ही वो अपने बेडरूम में जातीं.

’ की आवाज निकालता हुआ मेरी चूत में अन्दर-बाहर हो रहा था।कोई दो मिनट बाद संतोष ने भी अनाउन्स कर दिया कि वो भी झड़ रहा है।उसका सारा शरीर कुछ ऐंठ सा गया.

वो सब ले लो।कन्हाई ने पर्स निकाला तो उसमें सब मिलाकर को 1400 रुपए थे। मैंने भी अपने पर्स को उठाया जो वहीं पड़ा था। और उसमें जितनी पैसे थे.

पर शशि भाग्यशाली था, मेरे सामने ही सर उसकी गांड में लंड पेले हुए थे।मैं चुपचाप प्यासा खड़ा था।सर झड़ गए और अलग हो गए, उनका ढीला लंड भी बहुत बड़ा लग रहा था। मैं सोच रहा था कि जब पूरा खड़ा होगा तो कितना भयंकर होगा।मैं आपको कहानी कहने में सर जी का परिचय या उनकी बलिष्ठ देहयष्टि के बारे में बताना भूल ही गया। वे लगभग 27-28 साल के होंगे. उसमें नहाने लगा।अब मैं पानी के बीच में नहाते हुए उसके मम्मों को चूसने लगा। मुझे यह सब करने से बहुत मज़ा आ रहा था। फिर मैंने उसको टंकी की एक साइड पर बैठाया और मैंने एक बार फिर से लंड उसकी चूत में डाल दिया।अब वो भी ‘आह.

बिहार की हिंदी बीएफ मेरे कुत्तों।मैंने रिया के मुँह में अपना लौड़ा डाला और बोला- ले भोसड़ी की.

सबसे बीएफ हिंदी

गांव की लड़की बीएफ: दोपहर को आएंगी।तो भाभी बोली- थोड़ी लस्सी मिल जाहगी के?मैं बोला- भाभी.तो कभी शबनम मेरे रूम आ जाती है और इस तरह हम लोग सेक्स का भरपूर आनन्द उठाते हैं।अब तक हम दोनों सैकड़ों बार से सेक्स कर चुके हैं। आज भी शबनम को मैं नए-नए तरीके से चोदता हूँ। आज भी वो मुझसे दिल लगा कर चुदवाती है। मैं भी पूरे तन-मन से शबनम को चोदता हूँ और सेक्स का एन्जॉय करता हूँ।दोस्तो.