सेक्सी स्कूल गर्ल्स बीएफ

Image source,छत्तीसगढ़ का सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ पिक्चर देना: सेक्सी स्कूल गर्ल्स बीएफ, तो मैंने भी मौका देख कर अपने होंठ उनके होंठों पर रख दिए और जोर-जोर से उन्हें चूसते हुए किस करने लगा।अब अपने एक हाथ से मैंने उनकी मोटी-मोटी चूचियाँ दबानी शुरू कर दीं। भाभी भी मेरा पूरा साथ दे रही थीं और मेरे होंठों को ऐसे चूस रही थीं.

नंगी चुदाई की कहानी

पर उसने जबरन उसे भी उतरवा दिया।मैं उसके सामने निर्वस्त्र खड़ा था और वो मेरे सामने पहले ही नंगी हो चुकी थी।अभी मुझे शर्म सी आ ही रही थी कि उसने मुझे अपने बाहुपाश में जकड़ के बेतहाशा चूमना शुरू कर दिया। वो इस तरह मुझे चूम रही थी. गूगल हस के बताओअब ज़्यादा दिन वो पैसे के बिना नहीं रह पाएगा।तब नीरज को अहसास हुआ कि पैसे के बिना वो कुछ नहीं कर पाएगा। अभी तो बस रोमा के मज़े ले रहा है.

फिर मैंने भाभी को खड़ा किया और उनकी साड़ी खोल दी।अब मैंने भाभी के ब्लाउज के हुक खोले और ब्रा ऊपर करके भाभी के मम्मों को चूसा, फिर मैंने भाभी का पेटीकोट खोल दिया और पैन्टी को एक साइड में करके भाभी की चूत चाटी।फिर मैं उनके बाजू में लेट गया. दाल बनाना बताइएजो वो साथ ही लाई थी और जैसे कि वो सिलवाना चाहती थी।इतने में एक आंटी जो काफी देर से खड़े होकर हम लोगों की बात सुन रही थीं.

मेरे और उसके बदन के बीच में अटक सी गई हो।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !यह फीलिंग मुझे इतना मस्त किए जा रही थी कि अब मैं भी कुछ समझ नहीं पा रहा था। मुझे बस यही लग रहा था कि ये ऐसे ही चलता रहे।कभी-कभी ज्यादा उत्तेज़ना मैं अपनी छाती से उसके चूचों को इतनी तेज़ से मसल देता कि उसके मुँह ‘अह्हह्ह.सेक्सी स्कूल गर्ल्स बीएफ: वे एक प्राइवेट जॉब करते हैं और उनकी पत्नी यानि मेरी भाभी रेणु जो कि 25 वर्ष की एक बहुत ही मादक और कामुक जिस्म की हैं उनका फिगर 36सी-28-38 का है। उनकी मदमस्त जवानी मेरा लंड खड़ा कर देती है। वो मेरे घर में जब से आई हैं.

मेरी साँसें अब मेरे काबू से बाहर हो रही थीं। वो मुझे दबोच कर चुदाई का असली मज़ा ले रही थी।तभी वो झट से मुझसे चिपक गई और बोली- मैं गई.साथ ही जाहिरा ने अपने होंठों को बंद किया और मेरी ज़ुबान को अपने होंठों में लेकर चूसने लगी।मैंने अपना हाथ जाहिरा की उस छोटी सी शर्ट से बाहर निकाला और फिर उसकी शर्ट के ऊपर से उसकी चूचियों पर रख दिया।अब मैंने उसकी शर्ट के खुले गले के किनारे को पकड़ा और आहिस्ता-आहिस्ता उसको नीचे को खींचते हुए मैंने उसकी चूचियों को नंगा कर लिया।एक लम्हे के लिए जाहिरा ने अपनी आँखें खोलीं.

आईफोन न्यू मॉडल - सेक्सी स्कूल गर्ल्स बीएफ

लगाया और अपनी एक ऊँगली उसकी चूत में डाल दी।मैं उसकी चूत में अपनी एक ऊँगली अन्दर– बाहर कर रहा था और उसकी चूत के दाने को अपनी जीभ से चाट रहा था।वो मेरे सिर को अपनी चूत में दबा रही थी और बोले जा रही थी- आहाहह.क्या कहती हो नाज़नीन? चलोगी ना?आपा- वहाँ दूसरे दोस्त भी आएंगे और ग्रुप चुदाई करेंगे, मजा आएगा… नाज़नीन है ना?मैं- मैंने कभी ऐसा किया नहीं है।मैंने मना कर दिया और जब तक मैं अमदाबाद में रही, आप और जीजू के साथ उनके बेडरूम में ही सोती थी!.

जो अकेली होने के कारण इन लोगों के साथ ही रहती थी।मानसी के रूप में इन लोगों को फ्री की नौकरानी मिल गई थी.सेक्सी स्कूल गर्ल्स बीएफ एक दिन मैं अपनी बुआजी के घर गया, घर पहुँचते ही मैं सीधे भाभी के कमरे में घुस गया।वहाँ पर भाभी कपड़े बदल रही थीं.

फिर हम नहा कर बाहर आ गए और हमने बैठ कर आइसक्रीम खाई।मैंने एक बात नोट की कि शिवानी ठीक से चल नहीं पा रही थी.

कपड़े की डिजाइन फोटो girl?

सेक्सी स्कूल गर्ल्स बीएफ क्यों मेरी भी नींद खराब कर रही हो।जाहिरा बेबस होकर वहीं लेटी रह गई। लेकिन अब वह मेरे साथ और भी चिपक गई ताकि उसके भाई से उसका फासला हो जाए।फिर मैंने जाहिरा को सीधी होते हुए महसूस किया। लेकिन अगले ही लम्हे मुझे अपनी कमर के पास फैजान का हाथ महसूस हुआ। मेरे चेहरे पर मुस्कराहट आ गई.

कमबख्त लड़की?वीडियो चोदने वाली बीएफ

सेक्सी स्कूल गर्ल्स बीएफ कुछ देर तक मैं अपने आपसे जूझता रहा फिर मैं भाई-बहन वाली कहानियाँ पढ़ने लगा।करीब 10-15 कहानियाँ पढ़ने के बाद मैंने सोचा- नहीं यार.

मिया खलीफा सेक्सी बफ

सब स्टूडेंट अब घर जा चुके थे।अब मैं मैडम के केबिन की ओर चल दिया।तभी मुझे किसी अज्ञात नंबर से कॉल आया।मैं- हैलो?‘नीचे बेसमेंट में आ जाओ.ताकि लंड डालने में आसानी रहे, उसके हवा में ऊपर झूलते रहने से लंड नीचे से गरम चूत की सैर अच्छे से करने लगा।‘घप्प.

सेक्सी स्कूल गर्ल्स बीएफ मैंने अपनी छत के दरवाज़े को बंद किया और किनारे की दीवार के सहारे जमीन पर बैठ गया।जब-जब शराब की हर घूंट जब मेरे सीने को जलाती हुई अन्दर जाती.

चोदा कहानी

सील पैक सेक्सी पिक्चरमैंने ‘हाँ’ कर दी।मैं रात को घर पर पापा को बोलकर बुआजी के घर आ गया और भाभी के कमरे में आ कर लेट गया।थोड़ी देर बाद भाभी भी अपने कमरे में खाना खाकर आ गईं और कमरे में मेरी तरफ पीठ करके लेट गईं।मैं भी थोड़ी देर लेटा रहा। थोड़ी देर बाद मुझे लगा कि भाभी सो गई हैं.

वो अपनी बहन की चूचियों को देख रहा है।खाना खाने के बाद मुझे गरम लोहे पर एक और वार करने का ख्याल आया और मैंने अपने इस नए आइडिया पर फ़ौरन अमल करने का इरादा कर लिया।आप सब इस कहानी के बारे में अपने ख्यालात इस कहानी के सम्पादक की ईमेल तक भेज सकते हैं।अभी वाकिया बदस्तूर है।[emailprotected].मैं अब तुम्हारे काबिल नहीं रही। मैंने खुद अपनी इज्जत उसके हवाले कर दी थी। अब मैं किसी के लायक नहीं हूँ।आयुष- रोमा प्यार दिल का रिश्ता होता है.

अब निकाल लो…यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !लेकिन मैं तेज़ी से उन्हें उसी पोज़ में चोदने लगा और 5 मिनट बाद ही मुझे लगा कि मैं झड़ने वाला हूँ और मैं उनकी चूत में ही झड़ गया।फिर हम घर आ गए.

मम्मी-पापा हैं घर पर?आज उनकी आवाज़ में अपनापन कम और तंज़ कसने वाला अंदाज़ ज्यादा था।मैं- हाँ अन्दर आईए न.

लौड़े का सुपाड़ा बिल्कुल लाल हो गया।मैंने आव देखा न ताव और उसकी कमर के नीचे एक तकिया लगा कर अपना लंड उसकी फुद्दी में डालने लगा. उनके साथ उसकी छोटी बहन भी बाहर गई थी। जब मैं उसकी छोटी बहन को देखता था तो मेरा लौड़ा खड़ा हो जाता था।आज उसके घर मैं कोई नहीं था। मैंने देखा कि आज घर में कोई नहीं है.

सुषमा रानी मुझे शर्माता देखकर उसने दोबारा अपने होंठ मेरे होंठ पर रख दिए।होंठ चूसते हुए उसने मेरी शर्ट मेरे जिस्म से अलग कर दी।फिर उसके हाथ पीछे मेरी ब्रा के हुक पर गए और उसने ब्रा का हुक भी खोल दिया। मेरी नंगी चूचियाँ उसके सामने थीं जिनके निप्पल्स पराए मर्द के स्पर्श से बहुत टाइट हो रहे थे।उसने मेरी चूचियाँ निहारते हुए कहा- पता नहीं.

ब्लू पिक्चर बताएं वीडियो

सेक्सी स्कूल गर्ल्स बीएफ: शायद उसको मेरी त्वचा पर हाथ फेरना अच्छा लग रहा था।कुछ देर तक घुटनों के आस-पास अपना हाथ फेरने के बाद उसने हाथ को ऊपर की तरफ बढ़ाना चालू किया। उसका सख्त मर्दाना हाथ मेरी नाजुक जाँघों पर मचल रहा था। उसने धीरे से अपना हाथ.मैं बोला- किस बात के लिए?तो वो खड़ी हो गई और मेरे कान के पास आकर बोली- तूने कभी सेक्स किया है?मैं तो सुनकर दंग रह गया.